Home बालाघाट केजीएन बस सर्विस यह 15वीं घटना …फिटनेस प्रमाण पत्र ..और एनओसी नही …रोड टैक्स बकाया ..आरटीओं और पुलिस मेहकमा ने आंख में बांधी पट़टी

केजीएन बस सर्विस यह 15वीं घटना …फिटनेस प्रमाण पत्र ..और एनओसी नही …रोड टैक्स बकाया ..आरटीओं और पुलिस मेहकमा ने आंख में बांधी पट़टी

1 second read
0
0
107

सुधीर ताम्रकार। बालाघाट  जिले के तहसील मुख्यालय वारासिवनी में 5 किलोमीटर दूर सावंगी कासनाला के समीप षासकीय उद्यान के सामने तिरोड़ी-कटंगी से वारासिवनी आ रही केजीएन बस सर्विस वारासिवनी की तेजरफतार बस क्रमांक एमपी 50 पी 1174 ने टक्कर मारकर एक बाईक सवार को रौंद दिया और उसके बाद बस अनियंत्रित होकर पलट गई। इस दूर्घटना में बाईक में सवार पति-पत्नी और दो बेटियों में से 3 की मौके पर ही मौत हो गई तथा एक बालिका को गभीर अवस्था में अस्पताल में भर्ती कराया गया है। वहीं बस में सवार 25 यात्रियों में से 15 यात्रीयों को बस पलटने से गंभीर चोटे आई है उन्हें अस्पताल पहुंचाया गया।
बाईक में सवार मृतक दीनी के रहने वाले है पटले परिवार से थे डा.राजेष पटले 43 वर्श, पत्नी फुलेष्वरी पटले,भतीजी भाविका 11वर्श और रीया 5 वर्श जो दीनी से सिरपूर गांव जा रहे थे जहां उनका छोटा भाई रहता था मंड़ई और भाई दूज होने के कारण जा रहे थे।
घटना के पष्चात अस्पताल मे भर्ती घायलों को देखने के लिये सांसद बोधसिंह भगत,विधायक के.डी.देषमुख पूर्व विधायक प्रदीप जायसवाल पहुचे और चल रहे इलाज की जानकारी ली।
यह उल्लेखनीय है विगत 6 माह के अतराल में केजीएन बस सर्विस की बसों से होने वाली यह 15वीं घटना है।
बालाघाट मार्ग पर बनियाटोला और मोवाड रामपायली मार्ग इसी तरह बस से टाकराकर कही मौते हो गई है बस का पलट जाना आम बात हो गई है।
कल जिस बस से दुर्घटना घटित हुई उस बस में बीमा फिटनेस प्रमाण पत्र और एनओसी के दस्तावेज नही प्राप्त हुये इस बस पर रोड टैक्स की बकाया राषि वसूली जाना है।
इसके बावजूद इस बस सर्विस की अनेक बसें बिना परमिट बिना फिटनेस और आवष्यक कागजात के बिना बेरोकटोक चलाई जा रही है इन खटारा बसों में सफर करना खतरे से कम नही है।
इन बसों को जिन रूटों पर चलाया उन मार्गो पर पडने वाले थाने के सामने गुजरने पर पुलिस द्वारा कभी जांच नही की जाती।
डायवर के बजाये हेलपर्रों द्वारा बसे चलाई जाती है इनको आरटीओं का भी खुला सरक्षण मिला हुआ है।
तभी तो बिना परमिट बिना टैक्स पटाये बिना एनओसी आवष्यक बीमा कराये बिना बसे मार्गो पर फर्राटे भी रही है।
इन बसों में सफर यात्रियों के लिये मौत का सफर साबित हो रहा है लेकिन आरटीओं और पुलिस मेहकमा ने आंख में पट़टी बांध रखी है।

Load More Related Articles
Load More By Sudhir Tamrakar
Load More In बालाघाट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

पूर्व विधायक सहित चार को कांग्रेस पार्टी से किया निष्कासित

बालाघाट/वारासिवनी म.प्र. कांग्रेस कमेटी भोपाल ने गुरूवार को कांग्रेस के ही प्रदीप जायसवाल,…