Home बालाघाट टीएल मीटिंग में कलेक्टर ने दिए अधिकारियों को निर्देश, शेष किसानों को प्रोत्साहन राशि का शीघ्र वितरण करने के निर्देश

टीएल मीटिंग में कलेक्टर ने दिए अधिकारियों को निर्देश, शेष किसानों को प्रोत्साहन राशि का शीघ्र वितरण करने के निर्देश

2 second read
0
0
9

बालाघाट।  प्रत्येक सोमवार को होने वाली समय सीमा टीएल बैठक की कड़ी में आज 06 अगस्त 2018 को कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में टीएल बैठक का आयोजन किया गया था। बैठक में कलेक्टर श्री डी व्ही सिंह ने शासकीय योजनाओं की प्रगति की समीक्षा की और अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए। बैठक में जिला पंचायत की मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्रीमती मंजूषा विक्रांत राय, सभी एसडीएम, तहसीलदार, जनपद पंचायतों के मुख्य कार्यपालन अधिकारी, नगरीय निकायों के मुख्य नगर पालिका अधिकारी एवं अन्य विभागों के अधिकारी मौजूद थे।

     बैठक में सबसे पहले जिले के कुछ किसानों को धान के समर्थन मूल्य पर 200 रुपये प्रति क्विंटल की कृषक प्रोत्साहन राशि अब तक नहीं मिलने पर चर्चा की गई। इस दौरान उप संचालक कृषि श्री राजेश त्रिपाठी ने बताया कि जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक द्वारा भेजे गये किसानों के बैंक खाते एवं आईएफसी कोड की जानकारी में त्रुटि होने के कारण जिले के 740 किसानों को प्रोत्साहन राशि का भुगतान नहीं किया जा सका है। कोषालय से राशि किस बैंक के खाते में चली गई है इसका पता नहीं चल रहा है। इस पर कलेक्टर श्री नाराजगी व्यक्त की और कहा कि कोषालय से राशि किस खाते में गई है इसका अब तक पता क्यों नहीं चल रहा है। जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक के महाप्रबंधक को निर्देशित किया कि वे दो दिनों के भीतर इस आशय का प्रमाण पत्र प्रस्तुत करें कि सभी किसानों के खाते में प्रोत्साहन राशि जमा हो चुकी है। उन्होंने जिला कोषालय अधिकारी को भी निर्देशित किया कि 15 अप्रैल 2018 के जो ट्रांसेक्शन फेल हो गये हैं उनकी जानकारी बैंक से शीघ्र प्राप्त करें। उप संचालक कृषि को निर्देशित किया गया कि वे कोषालय एवं बैंक से समन्वय कर गुम हुई राशि का पता लगवायें और शेष किसानों को शीघ्र प्रोत्साहन राशि का वितरण करायें।

     बैठक में आगामी 09 अगस्त को जिले में आदिवासी दिवस मनाने के लिए सभी आवश्यक तैयारी करने के निर्देश दिये गये। इस दौरान बताया गया कि 09 अगस्त को माडल स्कूल बैहर में प्रात: 11 बजे से आदिवासी सम्मेलन का आयोजन किया जायेगा। इस कार्यक्रम में मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह के संबोधन का सीधा प्रसारण भी दिखाया जायेगा। इस कार्यक्रम में विभिन्न योजनाओं के लाभांवित हितग्राहियों को हितलाभ वितरण करने के निर्देश दिये गये।

     बैठक में आगामी विधानसभा चुनाव-2018 के लिए कर्मचारियों का डाटाबेस एकत्र करने के कार्य की समीक्षा के दौरान बताया गया कि कुछ विभागों से अब तक जानकारी नहीं दी गई है। इस स्थिति पर कलेक्टर श्री सिंह ने नाराजगी जाहिर की और अधिकारियों को सख्त चेतावनी दी कि अगले सोमवार तक डाटाबेस्‍ उपलब्ध नहीं कराने वाले अधिकारियों पर एफआईआर कराई जायेगी। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि वे चुनाव के कार्यों में किसी भी तरह की लापरवाही न करें।

     बैठक में मुख्यमंत्री जनकल्याण (संबल) योजना के क्रियान्वयन की समीक्षा के दौरान बताया गया कि असंगठित क्षेत्र के पंजीकृत श्रमिकों को पात्रता के अनुसार सहायता राशि का तेजी से वितरण किया जा रहा है। कलेक्टर श्री सिंह ने इस योजना में सभी अधिकारियों द्वारा किये जा रहे कार्यों की सराहना की और कहा कि वे इस योजना के हितग्राहियों को सहायता वितरण में तत्परता दिखायें। अंत्येष्टि सहायता के लिए सभी ग्राम पंचायतों को 10-10 हजार रुपये की राशि एडवांस में प्रदान कर दी गई है।

     कलेक्टर श्री सिंह ने बैठक में सभी अधिकारियों से कहा कि वे आगामी 17 अगस्त को शालाओं में होने वाले मिल बांचे कार्यक्रम के लिए अपना पंजीयन करायें और शाला को पुस्तके व अन्य सामग्री उपहार में दें। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि वे 17 अगस्त को इस कार्यक्रम में शामिल होने के साथ ही शाला के बच्चों के साथ मध्यान्ह भोजन में भी शामिल हों । उन्होंने मिल-बांचे कार्यक्रम के दिन शालाओं में मध्यान्ह भोजन में विशेष रूप से खीर-पुडी बनवाने के निर्देश भी दिये।

Load More Related Articles
Load More By Sudhir Tamrakar
Load More In बालाघाट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

बालाघाट दिव्यांगों ने किया अधिक मतदान करने का बनाया रिकार्ड 

आनंद ताम्रकार। बालाघाट बालाघाट सीईओ जिला पंचायत जगदीश गोमे द्वारा बताया गया कि श्री डी.व्ह…