Home बालाघाट नवागत कोतवाली प्रभारी लाईन अटैच …..प्रभारी प्रमोद साहु ने कहा कि मैने ऐसा नहीं किया

नवागत कोतवाली प्रभारी लाईन अटैच …..प्रभारी प्रमोद साहु ने कहा कि मैने ऐसा नहीं किया

0 second read
0
0
110

बालाघाट। अरसों बाद थाना प्रभारी के सात दिनो के भीतर लाईन अटैच होने का जिले में यह पहला मामला है। जिला मुख्यालय के कोतवाली थाना प्रभारी प्रमोद साहु को लाईन अटैच कर दिया गया है। इस दौरान वह थाना प्रभारी के रूप में कोतवाली में पदस्थ नहीं रहंेगे। तथाकथित तौर से महिला के साथ मारपीट और उसके बाद आमजनों के आक्रोश के बाद वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों ने नवागत थाना प्रभारी को हटाने के निर्देश दिये। घटनाक्रम की पूरी जांच वरिष्ठ अधिकारियों के मार्गदर्शन में की जा रही है। हालांकि चर्चा में थाना प्रभारी प्रमोद साहु ने कहा कि मैने ऐसा नहीं किया है। केवल मामला शांत करने के लिए कानूनी कार्यवाही की जानकारी से महिला को अवगत करा रहा था। चूंकि उस दौरान विवाद में काफी लोग थे, जिससे शांति खत्म होने का खतरा मंडरा रहा था। जिसके चलते मैंने कानून काम किया। मुझे ऐसा अंदेशा है कि शांति व्यवस्था को बिगड़ने वाले के खिलाफ कानूनी कार्यवाही की बात कही थी, उससे डर के कारण मेरे पर झूठे आरोप लगाये गये है।
घटनाक्रम के अनुसार यह जिले का पहला ऐसा मामला है। जिसमें थाना प्रभाराी सात दिन ही थाना प्रभारी रहे। इस दौरान उन्होंने अपनी कार्यशैली से अपनी एक पहचान बनानी शुरू कर दी थी। कोतवाली थाना प्रभारी बनने के बाद अपनी कार्यशैली से थाना प्रभारी प्रमोद साहु ने सबसे पहले निगरानी बदमाश की परेड ली, जिसके बाद अवैध शराब और सट्टे को पकड़ा। मजनुओं की धरपकड़ में उन्होंने मोती गार्डन का आकस्मिक निरीक्षण किया किन्तु गत दिनों उनके द्वारा की गई कार्यवाही से जनाक्रोश खड़ा हो गया और युवा नेता विशाल बिसेन एवं वैभवसिंह बिसेन के नागरिकों के साथ त्वरित न्याय की मांग ने, मामले में प्रथम दृष्टया अपने ही कर्मी को लाईन अटैच कर दिया, ताकि मामले की जांच पूरी और निष्पक्ष हो।
घटनाक्रम बीती रात लगभग 9 से 10 बजे के बीच का है, जब जयप्रकाश नगर में सुनीता जंघेला के साथ थाना प्रभारी प्रमोद साहु द्वारा मारपीट करने के आरोप ने तूल पकड़ लिया। जिसके बाद जयप्रकाश नगर के लोगों ने इसको लेकर हंगामा मचाया और रात में ही बिना जानकारी के चक्काजाम कर आवागमन को बाधित किया। जिसके बाद भी महिला के साथ तथाकथित रूप से की गई मारपीट को लेकर लोगों का आक्रोश शांत नहीं रहा। लोग रात में ही जुलुस के रूप में थाना पहुंचे और वहां थाना प्रभारी के खिलाफ कार्यवाही की मांग शुरू कर दी। जहां कांग्रेस नेताओं ने भी महिला के साथ घटी घटना की निंदा करते हुए लोगों की मांग का समर्थन किया। जिसके चलते शांति व्यवस्था कायम रखने पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों ने थाना प्रभारी प्रमोद साहु को लाईन अचैट कर दिया।
टीआई प्रमोद साहु ने चर्चा में बताया कि उन्हें सूचना आई थी कि जयप्रकाश नगर में भीड़ है, जिसके बाद जब वे वहां पहुंचे तो उन्होंने देखा कि महिलाओं में विवाद हो रहा है। जहां विवाद ज्यादा था, चूंकि रात का मामला था, इसलिए उन्होंने दोनो को शांत करवाने का प्रयास किया किन्तु महिला द्वारा आवेशित होकर पुलिस के सामने ही विवाद में उलझने लगी। जहां उसे समझाया गया कि वह ऐसा करती है तो उसके खिलाफ कानूनी कार्यवाही की जायेगी।
कई तरह की चर्चायें व्याप्त
कोतवाली थाना प्रभारी प्रमोद साहु के महज सात दिनों में थाना से लाईन अटैच के रूप में रवानगी रास नहीं आ रही है। उनके लाईन अटैच के आदेश के बाद कई तरह के चर्चायें व्याप्त है। कोई इसे संदल में डीजे की पुलिस द्वारा की गई बरामदगी से जोड़कर देख रहा है तो कोई इसे राजनीतिक रूप बता रहा है। चूंकि यह पहला मामला है, जब इतने कम दिनों में थाना प्रभारी पर गाज गिरी है।
लाईन अटैच का दिया आदेश
इस मामले को देख रहे अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक आकाश भूरिया ने थाना प्रभारी प्रमोद साहु के लाईन अटैच आदेश की पुष्टि की है। बताया जाता है कि बीती रात हुए घटनाक्रम में थाना प्रभारी को लाईन अटैच किये जाने की बात कही थी। जिसके बाद थाना प्रभारी प्रमोद साहु के लाईन अटैच किये जाने के आदेश भी जारी हो गया।

इनका कहना है
मामले की जांच जारी है। थाना प्रभारी को लाईन अटैच कर दिया गया है। इस मामले की पूरी जांच तक वे कोतवाली थाना नहीं आयेंगें।
आकाश भूरिया, एडीएसपी
मैने महिला के साथ मारपीट नहीं की है। एक सूचना के आधार पर पुलिस वहां पहुंची तो देखा कि विवाद चल रहा है एक महिला जिसके द्वारा विवाद की स्थिति पैदा की जा रही थी, उसे कानूनी कार्यवाही के बारे में समझाया था। मैने ऐसा नहीं किया गया है।
प्रमोद साहु, तत्कालीन थाना प्रभारी, कोतवाली थाना

Load More Related Articles
Load More By Sudhir Tamrakar
Load More In बालाघाट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

चार सौ बच्चो ने दियाँ स्वास्थ्य संबधी संदेश………. 5 कि मी लगाई दौड……….. नगद पुरस्कार भी जीता

बालाघाट वारासिवनी नगर में स्थित रानी अवंतीबाई स्टेडियम में २० जनवरी को मैराथन दौड़ प्रतियोग…