Home बालाघाट नाबालिक बालिका के साथ बलात्कार करने के आरोप में इस्माईल मिर्जा उर्फ बिच्छु को 10 साल की सजा

नाबालिक बालिका के साथ बलात्कार करने के आरोप में इस्माईल मिर्जा उर्फ बिच्छु को 10 साल की सजा

0 second read
0
0
105

आनंद ताम्रकार। बालाघाट। नाबालिक बालिका के साथ बलात्कार करने के आरोप में आरोपी को 10 साल के सश्रम कारावास की सजा सुनाई गई है।
बालाघाट के विषेष न्यायाधीष (पाक्सो एक्ट ) न्यायाधीष श्री रामजीलाल ताम्रकार ने आरोपी इस्माईल मिर्जा उर्फ बिच्छु उम्र 22 साल को धारा 376(2)एन, 363,366(क) भादवि एवं 5/6 लैंगिक अपराधों से बालको को सरश्रण अधिनियम 2012 में दोषी पाये जाने पर धारा 363 भादवि में 2 साल को सश्रम कारावास एवं 500रूपये का अर्थदण्ड तथा 366(क) भादवि में 3 साल का सश्रम कारावास एवं 500 रूपये का अर्थदण्ड तथा धारा 376(2) भादवि में 10 साल का सश्रम कारावास एवं 1000 रूपये के अर्थदण्ड से दंडित किया गया है।
मिडिया प्रभारी श्री अखिल कुषराम ने अवगत कराया की दिनांक 22 जुलाई 2017को आरोपी इस्माईल मिर्जा उर्फ बिच्छु पिता इस्माइल खान उम्र 22 साल निवासी वार्ड 13 सागौन वन बुढ़ी बालाघाट ने अभियोक्त्री को बहला फुसलाकर और षादी का प्रलोभन देकर सांगौन वन बालाघाट दरगाह के पीछे स्थित जंगल में ले जाकर बलात्कार किया उसके पष्चात आरोपी उसे हैदराबाद ले गया और हैदराबाद में उसके साथ षारीरिक संबंध बनाये जिसके कारण वह गर्भवती हो गई।
दिनांक 23 फरवरी 2018 को अभियोक्त्री घर वापस बालाघाट आई तब पुलिस ने उसकी दस्तयाबी की। उस समय अभियोक्त्री को 4 माह का गर्भ था दिनांक 7 जून 2018 को अभियोक्त्री ने 1 पुत्र संतान को जन्म दिया जिसका पिता आरोपी इस्माईल मिर्जा है।
प्रकरण में महत्वपूर्ण तथ्य यह है की अभियोक्त्री ने आरोपी से विवाह कर लिया इस लिये अभियोक्त्री एवं अन्य साक्षियों द्वारा अभियोजन पक्ष का समर
न नही किया गया लेकिन डीएनए रिपोर्ट के आधार पर माननीय न्यायालय ने आरोपी को दोषी पाते हुये उपरोक्त सजा आज दिनांक 4 फरवरी 2019 को सुनाई।

Load More Related Articles
Load More By Sudhir Tamrakar
Load More In बालाघाट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

कच्चे तेल की बढ़ती कीमतें …..भारत का बढ़ता तनाव….. भारत का रुपया सबसे खराब प्रदर्शन करने वाली रुपया एशियाई मुद्रा बन गया

इस साल कच्चे तेल की बढ़ती कीमतों और तनाव की वजह से भारत का रुपया इस साल की सबसे खराब प्रदर…