Home बालाघाट बालाघाट ब्लास्ट | मंत्री के संरक्षण में चल रही थी फैक्ट्री बालाघाट के- एसपी-कलेक्टर जिम्मेदार : अरुण यादव

बालाघाट ब्लास्ट | मंत्री के संरक्षण में चल रही थी फैक्ट्री बालाघाट के- एसपी-कलेक्टर जिम्मेदार : अरुण यादव

0 second read
0
0
217

आनंद ताम्रकार/बालाघाट। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अरूण यादव ने 7 जून को खैरी गांव में बारूदी विस्फोट से हुई 25 मौतों के मामले की न्यायायिक जांच किये जाने की मांग की है उन्होने बालाघाट के एसपी तथा कलेक्टर को इस दुर्घटना के लिये जिम्मेदार मानते हुये उन्हें निलम्बित कर उनके विरूद्ध हत्या का मामला दर्ज किया जाये। श्री यादव ने आज बालाघाट प्रवास के दौरान खैरी गांव में फटाका फैक्टी की घटना में घायलों से अस्पताल में मुलाकात की तथा उनसे उनके स्वास्थ्य के संबंध में डाक्टरों से जानकारी ली।
श्री यादव ने खैरी गांव में दुर्घटना स्थल का निरीक्षण किया उन्होने पीडित परिवारों से मिलकर उन्हें सात्वंना देते हुये उन्हें हरसंभव मदद दिलाये जाने का आश्वासन दिया। पत्रकारवार्ता में श्री यादव ने कहा की इस घटना के लिये मंत्री गौरीशंकर बिसेन भी जिम्मेदार है उन्ही के क्षेत्र में फटाका फैक्टी को अनुमति दिलवाई गई और उन्ही के सरक्षण में फैक्टी संचालित की जा रही थी जिसके कारण फैक्टी में गंभीरता पूर्वक निरीक्षण नही किया और यह दुर्भाग्यपूर्ण घटना घट गई। उन्होने नक्सल प्रभावित बालाघाट जिले में बारूद के उपयोग तथा उस पर नियंत्रण ना रखे जाने के लिये जिला प्रशासन को जिम्मेदार ठहराया जिनकी लापरवाही कारण यह दुर्घटना घटी जिसमें बेबस मजदूर मारे गये। श्री यादव ने मुख्यमंत्री चौहान द्वारा आमरण अनशन किये जाने को नौंटकी निरूपित करते हुये कहा की इसके बदले किसानों से मिलकर उनकी समस्या सुलझाने के लिये उनके बीच जाते और समाधान निकालते उनके अनशन से कोई समाधान निकालने वाला नही है। किसानों की समस्या के प्रति उनकी पार्टी संवेदनशील है तथा किसानों के साथ वह हर मोर्चे पर डटी रहेगी।
Load More Related Articles
Load More By Sudhir Tamrakar
Load More In बालाघाट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

कच्चे तेल की बढ़ती कीमतें …..भारत का बढ़ता तनाव….. भारत का रुपया सबसे खराब प्रदर्शन करने वाली रुपया एशियाई मुद्रा बन गया

इस साल कच्चे तेल की बढ़ती कीमतों और तनाव की वजह से भारत का रुपया इस साल की सबसे खराब प्रदर…