Home बालाघाट बिना अनुमति प्राप्त किये ही … दंपत्तियों को 50 हजार रूपये का प्राकलन जारी कर दिया

बिना अनुमति प्राप्त किये ही … दंपत्तियों को 50 हजार रूपये का प्राकलन जारी कर दिया

0 second read
0
0
88

आनंद ताम्रकार। बालाघाट  मध्यप्रदेष सरकार द्वारा बांझपन को राज्य बिमारी सहायता निधि में सम्मिलित करते हुये लोक स्वस्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग द्वारा प्राथमिक संतान हिनता से ग्रसित गरीबी रेखा से नीचे जीवनज्ञापन करने वाले दम्पत्तियों के प्रबंध हेतु दिषा जारी किये है यह योजना निरंतर प्रभावषील रहेगी। मुख्य चिकित्सा एवं स्वस्थ्य अधिकारी डॉ.के.के.खोसला ने अवगत कराया की भोपालद्वारा विभाग से विधिवत अनुमति प्राप्त किये बिना ही दिनांक 25 एवं 26 जून 2017 को संतानहिनता के उपचार हेतु बालाघाट जिले के विभिन्न विकासखण्डों में षिविर आयोजित किये थे जिनमें संतानहीन दंपत्ति की स्त्रीरोग विषेषज्ञ से परिक्षण कराया बिना संतानहीनता के पुष्टिकरण हेतु आवश्यक जांच कराये बिना ही पात्र एवं अपात्र दंपत्तियों को राषि 50 हजार रूपये का प्राकलन जारी कर दिया। जबकि संचालनालय स्वस्थ्य सेवायें भोपाल द्वारा प्रदेष के मान्यता प्राप्त निजि चिकित्सालयों की सूची के अनुसार भोपाल टेस्टट्युब बेबी सेंटर भोपाल को बांझपन के उपचार हेतु दी गई मान्यता की अवधि 31 मार्च 2017 को समाप्त हो चुकी थी।
मान्यता अवधि समाप्ति के उपरांत भोपाल टेस्टट्युब बेबी सेंटर द्वारा अवैधानिक रूप से संतानहीन दंपत्तियों को जारी किये गये प्राकलन को अमान्य कर दिया गया है। डॉ.श्री खोसला ने यह बताया की वर्तमान में संचालनालय स्वास्थ्य सेवायें द्वारा बांझपन के उपचार हेतु बंसल हास्पिटल शाहपूरा भोपाल की मान्यता दिनांक 31 दिसंबर 2019 तक की बडा दी गई है। जिले की संतानहीन दम्पत्तियों को निर्धारित प्रक्रिया पूर्ण कर संतानहीनता की पुष्टिकरण हेतु जिला मेडिकल बोर्ड से प्रमाणपत्र प्राप्त करना होगा तथा मान्यता प्राप्त अस्पताल से प्राकलन बनवाकर निर्धारित प्रारूप में आवेदन कर इस सहायता का लाभ ले सकेगें।

Load More Related Articles
Load More By Sudhir Tamrakar
Load More In बालाघाट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

पूर्व विधायक सहित चार को कांग्रेस पार्टी से किया निष्कासित

बालाघाट/वारासिवनी म.प्र. कांग्रेस कमेटी भोपाल ने गुरूवार को कांग्रेस के ही प्रदीप जायसवाल,…