Home बालाघाट मंत्री बिसेन ने कहा कि बहुत देखे है ऐसे सांसद…सांसद ने भी मंत्री बिसेन को चोर मंत्री कह दिया

मंत्री बिसेन ने कहा कि बहुत देखे है ऐसे सांसद…सांसद ने भी मंत्री बिसेन को चोर मंत्री कह दिया

0 second read
0
0
103

सुधीर ताम्रकार बालाघाट । सांसद बोधसिंग भगत और मंत्री गौरीषंकर बिसेन के बीच चल रहे मतभेद आज उस समय चरम पर पहुंचते दिखाई दिये। जब आज मलाजखंड में आयोजित सबका साथ सबका विकास, सम्मेलन आयोजित किया गया था जिसमें सांसद और मंत्री दोनो मंच पर मौजुद थें। दोनो के बीच मंच पर ही गरमा-गरम वाकयुद्ध होता दिखाई दिया । जिसके कारण मंच पर कुछ देर के लिये सन्नाटा छां गया। सांसद बोधसिंग भगत जब समारोह को संबोधित कर रहे थे, तब उन्होने एक मामले का उल्लेख किया। जिस पर जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक बालाघाट के अध्यक्ष राजकुमार रायजादा नें उनकी कही बातों का खंडन किया। इसी बीच मंत्री गौरीषंकर बिसेन ने भी सांसद बोधसिंग भगत से गलत बात नही कहने की बात कहीं। इस दौरान सांसद और मंत्री के बीच तीखी झडप भी हो गई जिसमें मंत्री गौरीषंकर बिसेन ने कहा कि बहुत देखे है ऐसे सांसद। उनके जवाब में सांसद ने भी मंत्री बिसेन को चोर मंत्री । इसके बाद मंत्री गौरीषंकर बिसेन मंच छोडकर चले गये। कार्यक्रम के दौरान जब मंत्री गौरीष्ंाकर बिसेन संबोधित कर रहे थे , तभी एक ग्रामीण द्धारा मलाजख्ंाड खदान में रोजगार नही दिये जाने की गुहार लगाई जिसको स ुनकर मंत्री बिसेन नें उस ग्रामीण को कार्यक्रम से बाहर कर देने की बात कही। उसके बाद सांसद बोधसिंग भगत नें समारोह में अपने उद्धबोधन में सबसे पहले उस ग्रामीण की बात का समर्थन करते हुये कहां कि मलाजखंड परियोजना में स्थानीय लोगो को रोजगार नही दिया जा रहा है।
सांसद भगत नें यषोदा सीड्स नामक कंपनी के बीज बिक्री किये जाने का जिक्र करते हुये कहा कि इस कंपनी के बीच के बिक्रय पर प्रतिबंध लगाया जाए। इसी बीच जिला सहकारी केन्द्रिय बैंक के अध्यक्ष राजकुमार रायजादा ने भी इस कंपनी के बीज के विक्रय प्रतिबंधित कर दिये जाने की बात कही जिस पर सांसद भगत ने कहा कि बाजार में इस कंपनी के बीज धडल्ले से बिक्रय किये जा रहे है बस इसी बात को लेकर मंत्री और सांसद के बीच तीखी झडप हो गयी।
यह उल्लेखनीय है कि महाराष्ट के हींगनघाट स्थित यषोदा सीड्स नामक कंपनी द्वारा गत वर्ष अमानक स्तर के बीज जिले तथा प्रदेष में बेचे थे। जिनमें अंकुरण ही नही हुआ था जिसके कारण किसानो की फसल बरबाद हो गयी। इसी कंपनी केे बीज सांसद भगत नंे भी खरीदे थे। जिसको बोने के बाद उनके खेत में भी बीज अंकुरित नही हुये। जिसकी षिकायत सांसद भगत नें प्रषासन को करते हुये इस कंपनी के बीज विक्रय पर प्रतिबंध लगाते हुये उसे काली सुची में दर्ज कराये जाने मांग की थी जिस पर जिला मंत्रणा समिति नें कंपनी के बीज विक्रय पर प्रतिबंध लगाते हुये उसका नाम काली सुची में दर्ज कराये जाने का प्रस्ताव शासन को भेजा था। लेकिन इस कंपनी को संयुक्त संचालक कृषि विकास जबलपुर द्धारा विक्रय की अनुमति दे दी गई। जिसके कारण जिले और प्रदेष में यषोदा सीड्स के बीज विक्रेय किये जा रहे है। बस इसी बात को लेकर सांसद भगत नाराज है।

Load More Related Articles
Load More By Sudhir Tamrakar
Load More In बालाघाट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

बालाघाट दिव्यांगों ने किया अधिक मतदान करने का बनाया रिकार्ड 

आनंद ताम्रकार। बालाघाट बालाघाट सीईओ जिला पंचायत जगदीश गोमे द्वारा बताया गया कि श्री डी.व्ह…