Home बालाघाट स्वरोजगार योजनाओं से जिले के युवाओं को रोजगार सृजन का अवसर मिला—-कृषि मंत्री श्री बिसेन

स्वरोजगार योजनाओं से जिले के युवाओं को रोजगार सृजन का अवसर मिला—-कृषि मंत्री श्री बिसेन

0 second read
0
0
24

बालाघाट।  प्रदेश के सभी जिलों के साथ ही आज 04 अगस्त को शासकीय जटाशंकर त्रिवेदी स्नातकोत्तर महाविद्यालय बालाघाट में जिला स्तरीय  व हितग्राही सम्मेलन का आयोजन किया गया था। इस आयोजन में विभिन्न योजनाओं के 4006 हितग्राहियों को लाभांवित किया गया है। इस अवसर पर मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा सिहोर जिले के बुधनी में आयोजित सम्मेलन में दिये गये संबोधन का सीधा प्रसारण भी दिखाया गया।

     जिला स्तरीय स्वरोजगार सम्मेलन में मध्यप्रदेश शासन के किसान कल्याण एवं कृषि विकास मंत्री श्री गौरीशंकर बिसेन मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित थे। कार्यक्रम की अध्यक्षता सांसद श्री बोध सिंह भगत ने की। इस कार्यक्रम में जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती रेखा बिसेन एवं नगर पालिका बालाघाट के अध्यक्ष श्री अनिल धुवारे विशिष्ट अतिथि के रूप में मौजूद थे। कार्यक्रम में जिला पंचायत सदस्य, कलेक्टर श्री डी व्ही सिंह, जिला पंचायत की मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्रीमती मंजूषा विक्रांत राय एवं स्वरोजगार व मुख्यमंत्री जनकल्याण योजना संबल से जुड़े विभागों के अधिकारी, बैंकों के अधिकारी एवं बड़ी संख्या में योजनाओं से लाभांवित होने वाले हितग्राही मौजूद थे।

     कार्यक्रम के मुख्य अतिथि कृषि मंत्री श्री गौरीशंकर बिसेन ने इस अवसर पर हितग्राहियों को संबोधित करते हुए कहा कि आज के इस सम्मेलन में जिले के 1600 युवाओं को स्वरोगजार योजनाओं में ऋण स्वीकृति प्रदान की गई है। बालाघाट जिले के लिए यह एक बड़ी उपलब्धि है। इतनी बड़ी संख्या में जिले के युवाओं को रोजगार सृजन का अवसर मिला है। यह युवा अपने स्वरोजगार से आत्मनिर्भर बनने के साथ ही जिले के अन्य युवाओं को रोजगार देने में सक्षम होंगें। मंत्री श्री बिसेन ने कहा कि प्रदेश सरकार मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना, मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजना व अन्य योजनाओं के माध्यम से युवाओं को रोजगार दे रही है। यह योजनाओं बेरोजगारी को दूर करने में मिल का पत्थर साबित होगी।

     कृषि मंत्री श्री बिसेन ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में समाज के हर वर्ग के कल्याण के लिए लिए योजनायें बनाई गई है। प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत कमजोर व गरीब परिवारों को मकान बनाने के लिए अनुदान दिया जा रहा है। अब प्रदेश में कोई भी व्यक्ति मकान विहीन नहीं रहेगा और किसी को भी कच्चे मकान में नहीं रहना पड़ेगा। जिन लोगों के पास मकान के लिए जमीन नहीं थी, उन्हें प्रदेश सरकार ने आवासीय भूमि का पट्टा देने का काम किया है।

     कृषि मंत्री श्री बिसेन ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में प्रदेश ने कृषि के क्षेत्र में तेजी से तरक्की की है। प्रदेश का कृषि उत्पादन बढ़ गया है। प्रदेश में सिंचाई का रकबा बढ़ाया गया है और बिजली का उत्पादन भी बढ़ाया गया है। अब केन्द्र सरकार ने अपने वादे के मुताबिक खरीफ फसलों की लागत का डेढ़ गुना बढ़ाकर उनका नया समर्थन मूल्य तय कर दिया है। समर्थन मूल्य में वृद्धि होने का लाभ किसानों को मिलेगा और उनकी आर्थिक स्थिति मजबूत होगी।

     कार्यक्रम के अध्यक्ष सांसद श्री बोधसिंह भगत ने इस अवसर पर अपने संबोधन में कहा कि मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने गरीबी को मिटाने में देश में सबसे अच्छा काम किया है। मध्यप्रदेश को पहले पिछड़ा एवं बीमारू प्रदेश कहा जाता था। लेकिन अब यह तेजी से विकास करता प्रदेश बन गया है। मध्यप्रदेश में किसान, मजदूर, गरीबों सबका विकास किया गया है और उनके कल्याण के लिए अच्छी योजनायें बनाई गई है। संबल योजना को लागू कर मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने गरीबों को बहुत बड़ी राहत प्रदान कर दी है। संबल योजना का लाभ प्रदेश की कमजोर व गरीब जनता को मिल रहा है। सांसद श्री भगत ने कहा कि केन्द्र सरकार की कौशल विकास योजना, मुद्रा योजना, स्टार्ट अप योजना ने युवाओं को आगे बढ़ने के अवसर प्रदान कर दिये है। उज्जवला योजना ने गरीब महिलाओं को धुंए वाले चुल्हे पर खाना बनाने से मुक्ति प्रदान कर दी है।

     कार्यक्रम के प्रारंभ में कलेक्टर श्री डी व्ही सिंह ने बताया कि 04 अगस्त 2018 को आयोजित जिला स्तरीय स्वरोजगार सम्मेलन में 13 विभिन्न विभागों द्वारा 4006 हितग्राहियों को लाभांवित किया गया है। इस कार्यक्रम में प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत ग्रामीण क्षेत्रों के 125 हितग्राहियों को मकान बनाने और नगरीय क्षेत्रों के 145 हितग्राहियों को मकान का उन्नयन करने की स्वीकृति का पत्र, अग्रणी बैंक द्वारा मुद्रा योजना, स्टेंडअप व स्टार्टअप योजना में 20 हितग्राहियों को ऋण स्वीकृति के पत्र, उज्जवला योजना के अंतर्गत 500 महिलाओं को गैस कनेक्शन, विभिन्न स्वरोजगार योजनाओं में 1756 हितग्राहियों को ऋण स्वीकृति पत्र प्रदान किया गया है। इस कार्यक्रम में सामाजिक न्याय विभाग द्वारा 150 हितग्राहियों को हितलाभ का वितरण किया गया है। संबंल योजना के अंतर्गत 600 श्रमिकों को स्मार्ट कार्ड का वितरण तथा 142 हितग्राहियों को अनुग्रह राशि का वितरण किया गया है। इस कार्यक्रम में पिछले दिनों आयोजित रोजगार मेले में प्रायवेट कंपनियों द्वारा 380 चयनित युवाओं को नियुक्ति पत्र, मत्स्य पालन विभाग द्वारा 10 हितग्राहियों को स्वीकृति पत्र, आईटीआई द्वारा 68 युवाओं को नियुक्ति पत्र, राजस्व विभाग द्वारा 60 आवासहीनों को जमीन का पट्टा, पशुपालन विभाग द्वारा 50 हितग्राहियों को स्वीकृति पत्र प्रदान किये गये है।

     कार्यक्रम में अतिथियों द्वारा संबंल योजना के हितग्राहियों को अनुग्रह राशि के चेक, स्वरोजगार योजनाओं के स्वीकृति पत्र, उज्जवला योजना के हितग्राहियों को गैस कनेक्शन एवं शहरी आजीविका मिशन के अंतर्गत 08 हितग्राहियों को ई-रिक्शा का वितरण किया गया।

Load More Related Articles
Load More By Sudhir Tamrakar
Load More In बालाघाट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

बालाघाट दिव्यांगों ने किया अधिक मतदान करने का बनाया रिकार्ड 

आनंद ताम्रकार। बालाघाट बालाघाट सीईओ जिला पंचायत जगदीश गोमे द्वारा बताया गया कि श्री डी.व्ह…